Friday, August 14, 2020
Home आपका शहर उत्तराखंड के एक जिले में लौटे 43 हजार प्रवासी, जानें किस राज्य...

उत्तराखंड के एक जिले में लौटे 43 हजार प्रवासी, जानें किस राज्य से कितने लोग आए वापस

Get Life Insurance 2020

चमोली जिले में कोरोना काल में अब तक 43 हजार प्रवासी अपने घर लौट आए हैं। जबकि अभी भी प्रवासियों की घर वापसी का सिलसिला जारी है।

विगत 3 मई से अब तक के आंकड़ों पर नजर डाले तो चमोली जनपद में 42989 प्रवासी देश-विदेश से अपने घर पहुंचे हैं। घर-गांव लौटे प्रवासियों में बहुत से लोगों का सपना है कि अब अपने घर-गांव में ही अपना भविष्य बनाएंगे। 

कोरोना की इस घड़ी में रोजगार खत्म होने और बीमारी के संक्रमण की चिन्ता से देश के विभिन्न राज्यों के साथ-साथ विदेशों में रह कर जो लोग रोजी रोटी कमाते थे।  वे विवशता में अपने गांव लौट रहे हैं।

Types of Health Insurance Plans
Many times, if you have health insurance, it’s through a group plan offered by your employer or your spouse’s employer. Others purchase individual policies directly from an insurance company or have COBRA coverage. There are quite a few confusing terms to weed through when considering health insurance plans, and they all come with their implications to consider. While it is important to know the difference between HMOs, PPOs, POS Plans, and Indemnity plans, for instance, it is most helpful to start with the most common health insurance plan types. The most common types can be grouped into one of three categories: An indemnity of Fee-for-Service Plans Health Maintenance Organizations (HMOs) Preferred Provider Organizations (PPOs)

चमोली में अब तक यूपी से 3057, गुजरात से 504, राजस्थान से 1029, मध्यप्रदेश से 154, हिमाचल से 314, दिल्ली से 4517, पंजाब से 1112, हरियाणा से 3070, महाराष्ट्र से 1065, आन्ध्र प्रदेश से 188, दमनदीप से 26। 

जम्मू-कश्मीर से 137, गोवा से 198, दादार एण्ड नगर हवेली से 159, तमिलनाडु से 53, पश्चिम बंगाल  से 40, बिहार से 111, कर्नाटका से 182, तेलंगाना से 29, अरुणांचल प्रदेश से 21, केरला से 52, छत्तीसगढ़ से 8।

अंडमान निकोबार से 14, झारखंड से 19, असाम से 60, लद्दाख से 5, नागालैंड से 8, मणीपुर से 4, मालद्वीप से 2, सिक्किम से 4, दुबई से 2, कुवैत से 6, यूएई से 1, यूनाइटेड अरब से 1, थाइलैंड से 2, वियतनाम और इंडोनेशिया से एक-एक प्रवासी घर लौटे हैं। 

देहरादून, हरिद्वार, ऊधमसिंह नगर एवं अन्य जनपदों से 26833 प्रवासी अपने घर गांव लौटे हैं ।  कुबैत से लौटे धीरज सिंह कहते हैं कि कोरोना खत्म होने के बाद पहाड़ों में भी पर्यटन व्यवसाय फिर चलेगा। 

जिला उद्योग विभाग के महाप्रबंधक डा. एमएस सजवाण बताते हैं कि प्रवासी अपने घर -गांव  में ही रहकर अपना भविष्य बनाना चाहते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

उत्तराखंड में पांच प्रतिशत पहुंची कोरोना संक्रमण दर, तेजी से बढ़ रहे संक्रमित

राज्य में Corona infection की दर अभी तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचते हुए पांच प्रतिशत हो गयी है। मंगलवार को राज्य में कोरोना...

उत्तराखंड : सब्जी विक्रेता में कोरोना की पुष्टि, बहन भी पाई गई थी पॉजिटिव

Udham Singh Nager: उत्तराखंड में कोरोना का कहर जारी है। सबसे ज्यादा कहर उधमसिंह नगर में बरप रहा है। उधमसिंह नगर से अब तक...

उत्तराखंड से बड़ी खबर : AIIMS में 24 घंटे में 5 कोरोना मरीजों की मौत, 25 नए मामले

Rishikesh: एम्स में पिछले 24 घंटे में विभिन्न गंभीर रोगों से ग्रसित 5 कोविड पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई। इसके अलावा 25 लोगों...

देहरादून में सेना के 6 जवानों में कोरोना की पुष्टि

Dehradun समेत पूरे प्रदेश में कोरोना का कहर जारा ही लेकिन सबसे ज्यादा कहर देहरादून, हरिद्वार, उधमसिंह नगर औऱ Nanital में बरप रहा है।...

Recent Comments