logo

sky bus service हरियाणा दिल्ली और गुरूग्राम के लिए शुरू होगी स्काई बस सेवा, ट्रैफिक जाम से मिलेगी निजात

sky bus service start in haryana/delhi/gurugram वाहन चालकों को ट्रैफिक जाम (traffic jam) की समस्या से निजात दिलाने को लेकर सरकार हरियाणा (haryana) दिल्ली (delhi) सहित गुरूग्राम (gurugram) में स्काई बस सेवा (sky bus seva) चलाने की योजना पर काम कर रही है। जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Union Minister Nitin Gadkari) ने बताया कि लगातार बढ़ते प्रदूषण को लेकर सरकार जहां इलेक्ट्रिक वाहनों (electric vehicles) को बढ़ावा देने में लगे है वहीं इसके साथ जल्द ही सरकार स्काई बस सर्विस (sky bus service) को शुरू करेगी।
 
 | 
sky bus service हरियाणा दिल्ली और गुरूग्राम के लिए शुरू होगी स्काई बस सेवा, ट्रैफिक जाम से मिलेगी निजात

News Hindi Live] स्काई बस सेवा को लेकर जानकारी देते हुए केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बताया कि जल्द ही हरियाणा दिल्ली और गुरूग्राम को स्र्काई बस सेवा की सौगात मिलेगी। जिससे हरियाणा और दिल्ली के चुनिंदा हिस्सों पर ट्रैफिक जाम को कंट्रोल किया जाएगा वहीं यहां होने वाले प्रदूषण को कुछ हद तक कम किया जा सकेगा। नितिन गडकरी के मुताबिक जलवायु की देखभाल करना ही सरकार की सर्वोच्च योजना है।


जानिए स्काई बस सर्विस का पूरा रूट मैप
केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने स्काई बस सर्विस को लेकर बताया कि प्रदूषण के साथ आर्थिक विकास करना अच्छी बात नहीं है जिसको लेकर सरकार स्काई बस सेवा सर्विस योजना के बारे में विचार कर रही है। वहीं रूट मैप को लेकर नितिन गडकरी ने बताया कि वे  धौला कुआं से मानेसर के लिए स्काईबस सेवा शुरू करना चाह रहे है। 


जीवाश्म ईधन के आयात को कम करना मेरा सपना
सड़क परिवहन मंत्री ने बताया कि देश में जीवाश्म ईधन के आयात को कम करना उनका सपना है और भविष्य में वे जीवाश्म ईधन के आयात को बिल्कुल शून्य करना चाह रहे है। उन्होंने कहा कि पानी से ग्रीन हाइड्रोजन बनाना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में ट्रांसपोर्टेशन के लिए इथेनॉल के उपयोग को बढ़ावा देने की जरूरत है जिसके बाद वाहन चालकों के लिए इथेनॉल एक सस्ता और प्रदूषण मुक्त विकल्प साबित होगा। उन्होंने बताया कि इथेनॉल की मदद से देश में विकास कार्य को बढ़ाने में मदद मिलेगी उन्होंने बताया कि वे चावल से इथेनॉल का निर्माण करेंगे।