logo

New Ring Road हरियाणा के इन 18 गांवों से होकर गुजरेगा रिंग रोड, NHAI तैयार कर रहा डीपीआर

प्रदेश के लोगों को ट्रैफिक जाम (traffic jam) से निजात दिलाने और राज्यों की आप में कनेक्टिविटी बढ़ाने को लेकर सरकार लगातार काम कर रही है। ऐसे में अब हरियाणा (haryana) को जल्द ही नए रिंग रोड़ (ring road) की सौगात मिलने वाली है। जोकि हरियाणा के 18 गांवों से होकर गुजरेगा। निर्माण कार्य को लेकर एनएचएआई (NHAI) द्वारा डीपीआर (DPR) तैयार की जा रही है। जिसके बाद ही गांवों में जमीन अधिग्रहण (land acquisition) का काम शुरू होगा।
 
 | 
New Ring Road हरियाणा के इन 18 गांवों से होकर गुजरेगा रिंग रोड, NHAI तैयार कर रहा डीपीआर

news hindi live, Haryana प्रदेश को जाम से निजात दिलाने और शहरों में बिना एंट्री से वाहनों के गुजरने को लेकर सरकार द्वारा बड़ी प्लानिंग की जा रही है। जिसके तहत अब हरियाणा (haryana) के शहर हिसार को नए रिंग रोड (hisar ring road) की सुविधा मिलने वाली है। सूत्रों के अनुसार निर्माण कार्य को लेकर एनएचएआई (NHAI) यानि नेशनल हाईवे अर्थोरिटी ऑफ इंडिया सिटी द्वारा रिंग रोड को तैयार की प्लानिंग शुरू कर दी गई है।

 

 

वहीं ताजा जानकारी के अनुसार रिंग रोड को लेकर सरकार की ओर से डीपीआर (DPR) को भी मंजूरी मिल चुकी है। जिसके बाद एनएचआई द्वारा किसी एंजेसी को हायर करके डीपीआर तैयार करवाने का काम किया जाएगा। वहीं जिला प्रशासन की ओर से रेवेन्यू मैप (revenue map) मांगे गए है। एनएचएआई के अधिकारियों का कहना है कि रिंग रोड़ को लेकर हिसार के ढंदूर और मिर्जापुर जंक्शन (Mirzapur juction) पर क्लोवरलीफ बनाने की तैयारी की जा रही है। जिसको लेकर ट्रैफिक सर्वे (traffic serve) का काम शुरू कर दिया गया है। 


आइए जानते है क्या है क्लोवर लीफ इंटरचेंज (What is Clover Leaf Interchange)
क्लोवर लीफ (Clover Leaf) एक दो स्तरीय इंटरचेंज होता है। जिसके तहत सड़कों को स्लिप यानी ढलान और गोलाई देकर नियंत्रित किया जाता है। वाहन को बाएं जाने के लिए सड़क के ऊपर या दूसरे हिस्से के नीचे से गुजरना होता है। जिसके बाद एक तरफा तीन चौथाई लूप रैंप (270 डिग्री ) पर दाएं से बाहर निकाले जाते है। ऐसी ही विधि का उपयोग दाएं जाने के लिए रैंप से होते हुए वाहन बाएं और बाहर की साइड निकाले जाते है। क्लोवर लीफ का मुख्य उद्देश्य दो राजमार्गों पर वाहनों को बिना ट्रैफिक लाइट (traffic light) व बिना किसी वाहन को रोके आसानी से गुजारने के लिए किया जाता है। 


जानिए किन गांवों की जमीन होगी अधिग्रहण
रिंग रोड के निर्माण को लेकर सरकार द्वारा डीपीआर तैयार करने की मंजूरी दे दी गई है। जिसके चलते हरियाणा (haryana) के हिसार (hisar) के 18 गांवो का रेवेन्यू रिकॉर्ड (revenue record) के साथ मैप मांगे गए है। सूत्रों के अनुसार इसी रेवेन्यू मैप के आधार पर रिंग रोड का प्रोजेक्ट तैयार किया जा रहा है।