logo

Mausam ki Jankari सावन के 9वें दिन लगी बारिश की झड़ी, जानिए आगे कैसा रहेगा मौसम

Weather Update सावन के 9वें दिन हरियाणा (haryana) के कई इलाकों में जबरदस्त बारिश (barish) हुई। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को हरियाणा में अधिकतम 31 एमएम बारिश दर्ज हुई। वहीं आईएमडी (IMA Alert) ने मौसम की ताजा जानकारी जारी करते हुए बताया कि आने वाले दिनों में भी हरियाणा में मानसून (mansoon) सक्रिय रहेगा जिसके चलते हरियाणा, दिल्ली सहित एनसीआर में जोरदार बारिश देखने को मिलेगी।
 
 | 
Mausam ki Jankari सावन के 9वें दिन लगी बारिश की झड़ी, जानिए आगे कैसा रहेगा मौसम

News Hindi Live] सावन के पहले ही दिन से मॉनसून मेहरवान बना हुआ है लेकिन नौवें दिन गुरुवार को बारिश की झड़ी लग गई। 9 घंटे तक लगातार रिमझिम बारिश होती रही। जो शहर में 31 एमएम बारिश दर्ज की गई। सबसे अधिक बारिश मतलौडा में 62 एमएम दर्ज की गई। इससे तापमान में 4 डिग्री गिरावट आ गई। तापमान 32 डिग्री से 28 डिग्री पर आ गया।

 

गुरुवार का दिन इस मॉनसूनी सीजन का सबसे ठंडा दिन रहा। बता दे कि 21 जुलाई 2011 को अधिकतम तापमान 29 डिग्री रहा था। वहीं,पॉल्यूशन भी बारिश ने धो दिया। एक्यूआई 50 पॉइंट से नीचे आ गया।

 

22-07-2022 इस सीजन का सबसे ठंडा दिन रहा गुरुवार।
गुरुवार को सुबह 4 बजे से दोपहर एक बजे तक लगातार नौ घंटे हुई बारिश ने मौसम सुहानाकर दिया। गुरुवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री से गिरकर 28 डिग्री पर आ गया। रात के तापमान में भी दो डिग्री कीगिरावट आ गई। रात का तापमान 24 डिग्री दर्ज किया गया। गुरुवारका दिन इस मॉनसूनी सीजनका सबसे ठंडा दिन रहा। इससे लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग के अनुसार: 25 जुलाई तक मध्यम से तेज बारिश की उम्मीद है।


 
25 जुलाई तक बन रहे बारिश के आसार
विशेषज्ञ डॉ. डी पी दुबे ने बताया कि  शुक्रवार को तेज हवाओं और गरज-चमक संग बारिश की संभावना है। इस बारिश से दिन के तापमान में दो से तीन डिग्री तक गिरावट आ सकती है। इसके साथ ही 25 जुलाई तक हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है। 26 जुलाई को आसमान साफ हो सकता है। पूर्वी हवाएं चल सकती हैं।

 

समालखा में कम बारिश
पानीपत    31 एमएम
समालखा 12  एमएम
इसराना    44एमएम
बापौली    26 एमएम
मतलौडा  62 एमएम

 

9 दिन में 8 दिन बरसे मेघा
इस बार 14 जुलाई को सावन के महीने की शुरुआत हो गई। सावन का महीने के पहले ही दिन से मॉनसून मेहरबान हो गया। जो लगातार जारी है। गुरुवार  को मिलाकर 9 दिन में से 8 दिन मेघा बरसे हैं। अरब सागर पर बने लो प्रेशर एरिया बनने के कारण मंगलवार रात से मौसममें अचानक ही बदलाव आ गया।विंड पैटर्न बदल गया। दक्षिणी-पूर्वीहवाएं चलने लगीं। गुरुवार सुबह करीब 4 बजे बारिश शुरू हो गई। जो दोपहर 1 बजे तक लगातार होतीरही। इस दौरान कभी हल्की तो कभी मध्यम रिमझिम बारिश होती रही।इसके बाद मौसम साफ हो गया।